धरती मां का चंदा मामा को रक्षाबंधन बांधते हुए हुए तस्वीर

जब से चंद्रयान-3 लांच हुआ था तब से लोगों की धड़कनें बढ़ती ही जा रही थी हर एक पल इससे जुड़ी हुई छोटी से छोटी सूचना को लोग हासिल करना चाहते थे और चंद्रयान तीन के बारे में काफी उत्सुकता से इंटरनेट पर सर्च कर रहे थे और ढेर सारे मैटेरियल्स इंटरनेट पर अपलोड भी कर रहे थे जैसे ही लोगों को पता चला कि कल 6:04 पर चंद्रयान-3 चंद्रमा की सतह पर पूर्णतया लैंड कर चुका है  

और चंदा जिसे हम मामा का दर्जा देते आ रहे हैं आज वह कहावत सत्य हो गई है हम बचपन में सुना करते थे चंदा मामा दूर के तो अब धरती यानी कि हमारी मां ने अपने भाई यानी कि चंद्रमा को रक्षाबंधन बंद ही दिया और यह संभव हो पाया है चंद्रयान 3 के वजह से चंद्रयान-3 के वजह से आज एक बहन ने अपने भाई को रक्षाबंधन बांध दिया. 

ठीक उसी समय लोगों ने इंटरनेट पर तस्वीरों की बाढ़ डाल दी उसी में से एक तस्वीर अभी वायरल हो रही थी जिसमें हम देख पा रहे होंगे कि हमारी धरती मां जिसे हम बरसों से मां का दर्जा देते आ रहे हैं यह हमारे सनातन परंपरा की एक निशानी रही है

चंद्रयान-3 एक ऐसा सेतु बनकर सामने आया है जिसकी मदद से एक बहन ने आज अपने भाई को रक्षाबंधन बांध दिया यह फोटो एक ऐसी भावना को लोगों को समक्ष प्रस्तुत कर रही है जिससे एक बात तो साफ होता है कि भारत की परंपरा एकता अखंडता में अभी भी इतनी ताकत है  

वह अकेले ही बड़े से बड़े लक्ष्य को छोटे से छोटे समय में भेद कर सकता है और समस्त ब्रह्मांड को यह दिखा सकता है कि सनातन शक्ति में अभी भी आस्था बची हुई है लोग हर साल जोरों शोरों से रक्षाबंधन के त्यौहार का इंतजार करते हैं और रक्षाबंधन के दिन प्रत्येक बंद अपने भरता के कलाई पर रक्षाबंधन बांधकर इस पावन अवसर का लाभ उठाती है यही हमारी परंपरा है यही हमारी संस्कृति है. 

लोगों ने पिक्चर को शेयर करते हुए कहा यही हमारी परंपरा है यही हमारी संस्कृति है- ढेर सारे लोग इस पिक्चर को अपने-अपने सोशल मीडिया हैंडल्स पर शेयर कर रहे हैं कई लोग इसे अपने इंस्टाग्राम पर शेयर कर रहे हैं तो कुछ लोग इसे अपने व्हाट्सएप पर शेयर कर रहे हैं कई लोगों ने अपने व्हाट्सएप पर स्टेटस लगाते हुए इस पिक्चर के बारे में या प्रतिक्रिया दी की चंदा मामा अब दूर के नहीं बस एक टूर के हैं. 

प्रधानमंत्री जी ने कहा चंदा मामा दूर के नहीं बस एक टूर के हैं- जैसा कि हम सब ने एक कहावत बचपन से ही सुनी होगी चंदा मामा दूर के लेकिन चंद्रयान की सफलता ने इस बात को थोड़ा सा बदल दिया है अब यह कहावत हो चुका है 

चंदा मामा दूर के नहीं बल्कि एक टूर के जी हां दोस्तों चंद्रयान-3 किया टूट सफलता के बाद प्रधानमंत्री जी ने इसरो के मुख्यालय से लाइव स्ट्रीमिंग करते हुए यह बात कही और कहा कि चंदा मामा दूर के नहीं 

बस एक टूर के जिस तरह से चंद्रयान-3 ने केवल एक टूर में धरती से चंद्रमा तक की दूरी तय कर ली उससे यह कहा जा सकता है कि चंदा मामा अब दूर के नहीं रहे ब   

क्या चंद्रयान 3 चांद पर उतरा था? अपने ऑर्बिट में सफलतापूर्वक घूमने के पश्चात चंद्रयान-3 एक अनुमान के हिसाब से 23 अगस्त को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा.