Google In A Massy Trubble:इनकॉग्निटो मॉड की वजह से बढ़ गई है गूगल की मुसीबतें हुआ 1.14 खरब का नुकसान

Google In A Massy Trubble इनकॉग्निटो मॉड की वजह से बढ़ गई है गूगल की मुसीबतें हुआ 1.14 खरब का नुकसान

कॉग्निटो मोड द्वारा प्रदान की जाने वाली सुरक्षा क्या आपके लिए घातक हो सकती है ?

Google In A Massy Trubble
Google In A Massy Trubble

आपने अक्सर ही इग्निटो मोड का प्रयोग किया होगा इनकॉग्निटो मॉड गूगल द्वारा प्रदान किया जाने वाला एक ऐसा मोड़ है जिसमें उपयोगकर्ता प्राइवेट सर्च किया करता है या अत्यंत ही उपयोगी टूल है

जो गूगल द्वारा अपने हर एक उपयोगकर्ता को प्रदान किया गया है इसमें उपयोगकर्ता प्राइवेट सर्च किया करते हैं लेकिन क्या आपने कभी इस बात पर आशंका जताई है कि इनकॉग्निटो मॉड आपको कितने प्रतिशत सुरक्षा प्रदान करता है

कहीं ऐसा तो नहीं है कि कॉग्निटो मोड आपकी सुरक्षा पर सेट करते हुए आपकी प्राइवेट फाइल्स और प्राइवेट डाटा को लीक कर रहा है लिए आज के इस आर्टिकल में ध्यान देते हैं ऐसी बातों पर.

क्या होती है इसमें आपके हिस्ट्री ट्रैक-

अगर हम इस की बात करें तो अब तक मिले रिपोर्ट के मुताबिक यह बताया जा रहा है कि गूगल आपके किसी भी प्रकार के डाटा को ना तो लिख करता है ना ही आपके एक्टिविटीज को ट्रैक करता है

हालांकि गूगल आपके हिस्ट्री को अपने सर्वर पर सेव जरूर करता है और इतनी टो मोड के द्वारा आपने जो सर्च किया है उस सर्च हिस्ट्री को भी गूगल अपने सरवर पर सेव करता है

लेकिन यह सर्च हिस्ट्री आप अपने मोबाइल फोन या डेक्सटॉप में नहीं देख सकेंगे यह केवल और केवल गूगल के सर्वर पर उपलब्ध होता है.

कई लोगों को हो चुकी है यह गलतफहमी- 

Google In A Massy Trubble
Google In A Massy Trubble

कई लोगों को इस बात की गलतफहमी हो चुकी है कि गूगल इनकॉग्निटो मॉड के रिजल्ट्स एवं सर्चस को अपने सर्वर पर भी शेयर नहीं करता है

जबकि सत्य बिल्कुल इसके विपरीत है गूगल आपके द्वारा किए गए कि कॉग्निटो मोड में सर्चस एवं रिजल्ट्स को भी अपने सर्वर पर बाकी के रिजल्ट की तरह सेव करता है हालांकि यह सर्चस और रिजल्ट आपको अपने फोन में नहीं दिखेंगे लेकिन गूगल के सर्वर पर यह सब उपलब्ध है रहता है.

गूगल पर हुई कार्यवाही-

Google In A Massy Trubble
Google In A Massy Trubble

इसी को मद्देनजर रखते हुए क्लास एक्शन लॉसूट के अंतर्गत गूगल पर वर्ष 2020 में एक कार्यवाही भी की गई जिसके अंतर्गत गूगल पर कुल 4.14 बिलियन डॉलर काला सूट है गूगल को या भरी भुगतान चुकाना ही पड़ेगा यह काफी बड़ी रकम है.

गूगल के उम्मीदों पर पानी फिर गया-

परिणाम आने से पूर्व गूगल पूर्ण तरह से आश्वस्त था कि वाक्य जीतेगा और इस पर किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं होगी कहीं गूगल पहले से ही कहता आ रहा है कि कॉग्निटो मोड में हुआ किसी प्रकार की सूचनाओं को किसी दूसरे से शेयर नहीं करते हैं.

गूगल पर लगे अन्य कई आरोप –

Google In A Massy Trubble
Google In A Massy Trubble

आपको बता दें कि गूगल पर लगा हुआ इनकॉग्निटो मॉड से संबंधित आप केवल एक अकेला ही नहीं था इसके साथ ही कई एन आप गूगल पर लगाए गए थे जैसे की इकोनॉमी तो मोड़ के दौरान गूगल अपने ऐड एनालिटिक्स मैनेजर इत्यादि प्लगइन का प्रयोग करके उपभोक्ताओं को ट्रैक करता है.

बढ़ रही गूगल की मुसीबतें-

फैसला सामने आने के बाद गूगल की मुसीबतें बढ़ती हुई दिख रही है गूगल पहले तो पूर्ण रूप से कॉन्फिडेंस में था कि उसके ऊपर किसी भी तरह की कार्यवाही नहीं हो सकती क्योंकि पूर्ण रूप से निष्पक्ष होकर के अपने अपने गूगल साइट पर भी कॉग्निटो मोड में निष्पक्ष होकर सारे ऑप्शन प्रदान करता है ताकि उपभोक्ता अपने जरूरत के हिसाब से इसका प्रयोग कर सकें

लेकिन इस केस के बाद गूगल की मुसीबतें बढ़ती हुई दिख रही है इस केस में कई ऐसे बड़े आरोप गूगल के ऊपर लगाए गए थे जी ने पहले तो गूगल मानने से इंकार करता रहा लेकिन बाद में जब इस बात का पूर्व सत्यापन हुआ तो गूगल से फंसा हुआ नजर आया और अब गूगल पूर्ण रूप से परेशान हो चुका है

अगर यह मामला सत्य साबित होता है तो गूगल को हर्जाना भरना पड़ेगा हालांकि गूगल इस मामले को एक बार और चैलेंज करेगा और अगर गूगल उसमें भी हार जाता है तो उसे इसका हर्जाना देना ही पड़ेगा.

 

Leave a Comment